Categories
Outdoor Plants

7  ऐसे फूल जो घंटे के आकार के होते है  

सुन्दर पौधे जोड़ने मात्र से किसी भी जगह की रौनक बदल जाती है , वैसे तो हर पौधे और उनके फूल अपनी कुछ खास पहचान और गुण रखते है और दुनिया भर में इनके इतने आकर और प्रकार है की आप हैरत में पड़ जायेंगे। 

अलग अलग लोगों की फूल पौधों के मामले में अपनी अपनी पसंद होती है किसी को सुगंध वाले फूल  पसंद आते है तो किसी को बड़े पत्तों वाले इंडोर प्लांट्स पसंद आते है। आज हम जिन फूलों के बारे में जानेंगे वो बड़े की ख़ास होने घंटे के आकर के होने वाले है या फिर आप इन्हे ट्रम्पेट के आकर का भी बोल सकते है , तो आइये बिना समय गवाए हम आपको ले चलते है एक ख़ास सफर पर जहा हम आपकी मुलाकात कुछ बेल के आकार के फूलों से करवाएँगे। 

फुशिया

यह एक बेल वाला पौधा है जिसमे लाल और बैंगनी रंग के घंटे के आकार के फूल खिलते है कुछ लोग इसके फूल को गुड़िया के आकर का भी बताते है। इसके फूल जब पौधे में भर जाते तो उस दृश्य की तुलना ही नहीं की जा सकती है , मैं तो ये शर्त लगा कर भी कह सकता हूँ की कुछ लोगों ने तो इस फूल को देखा भी नहीं होगा। फुशिया के पौधे को रोजाना देखभाल की जरूरत नहीं पड़ती है आप चाहे तो इस पौधे को दोनों जगह लगा सकते है जहा आंशिक छाया हो या जहा अच्छी धुप आती हो। आप इस पौधे को थोड़ी देखभाल के साथ अपने घर के अंदर भी लगा सकते है। 

बेल फ्लावर

इस पौधे को कैम्पानुला नाम से भी जाना जाता है और इस पौधे की 300 प्रजातियां पाई जाती है और इनके फूल भी आपको विभिन्न रंगो और आकार में देखने को मिलेंगे लेकिन नीले रंग का बेल फ्लावर सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है , अगर आप भी इस पौधे को लगाना चाहते है तो वसंत का मौसम सबसे उपयुक्त रहेगा और वसंत में ही इस पौधे में फूल भी आते है। अगर आप इस पौधे को कटिंग से लगाना चाहते है तो ये बड़ी आसानी से लग जायेगा। 

अलामांडा

अलामांडा गर्मियों में खिलने वाला एक बहुत ही सुन्दर झाड़ी दार पौधा है जो की अपने घंटे के आकर के फूलो के लिए जाने जाते है इन्हे सुनहरे ट्रम्पेट फ्लावर के नाम से भी जाना जाता है। भारत में अलामांडा के फूल बड़े ही प्रसिद्ध है इन पौधों को ज्यादा देखभाल की जरुरत भी नहीं पड़ती और कड़ी गर्मी को भी ये पौधा आराम से झेल जाता है , इसके फूल पीले रंग के होते है और आप इस पौधे की समय पर छटाई करेंगे तो ये पौधा और घना हो जायेगा और इसमें भर भर कर फूल आएंगे पौधे की प्रूनिंग तब करे जब पौधे में फूल आने बंद हो जाए। 

फॉक्सग्लोव

फॉक्सग्लोव के फूल दिखने में तो आकर्षित होते है लेकिन पूरा का पूरा पौधा इसके फूल , पत्तियाँ और टहनियाँ विषैले होते है , अगर आप इस पौधे को लगाना चाहते है और आपके घर में छोटे बच्चे और पालतू जानवर है तो आपको खासा सावधानी बरतनी पड़ेगी। इसके फूल आपको लाल , गुलाबी , पीला ,सफ़ेद और बैंगनी रंग में देखने के लिए मिल जायेंगे। 

हमारे ही वेबसाइट पर एक और लेख है जिसमे हमने पुरे वर्ष खिलने वाले पौधों के बारे में बताया है आप उसे भी जरूर पड़े आपको उसमे कुछ बेल के आकार के फूल की जानकारी मिल जाएगी।

कैंटरबरी बेल्स

लगाने के बाद यह पौधा बड़ी तेज़ी से उगता है और इसके मनमोहक और जीवंत फूल किसी घंटे के आकर के होते है और हलकी मीठी सुगंध समेटे रहते है लेकिन इस पौधे के अद्भुत फूलों को देखने के लिए आपको 2 सालो का इंतज़ार करना होगा और एक बार खिलने के बाद ये पौधा मर जाता है , इस वजह से शायद हर कोई इस पौधे को ना उगना चाहे। कैंटरबरी बेल्स के फूल आपको गुलाबी , सफ़ेद , बैंगनी और नीले रंग में आते है। 

लिल्ली ऑफ़ वैली

लिली ऑफ़ वैली फ्लावर एक जमीन पर फैलने वाला पौधा है जो बहुत ही कम समय में किसी भी जगह को चादर की तरह ढक सकता है। लेकिन क्या लिली बेल के आकार का फूल है ? जी हां इसके छोटे छोटे सफ़ेद फूलों की बनावट किसी छोटी घंटी जैसी ही होती है , इसके फूल वसंत के शुरुवात से ही खिलना शुरू हो जाते है और इसमें से बहुत ही अच्छी सुगंध भी आती है। 

धतूरा

धतूरा घंटी के आकार का फूल है का और भगवान शिव शंकर का प्रिय फूल है। धतूरे के पौधे झाड़ीनुमा होते है और इसमें भर भर के फूल आते है जो रात के समय खिलते है और इनकी खुशबू क्या गजब की होती है। लेकिन धतूरे के फल विषैले होते है , इस पौधे के कई औषधीय गुण भी होते है जो सरदर्द और कमज़ोरी से निजाद दिलाते है। धतूरे के फूल आपको सफ़ेद और लैवेंडर रंग में देखने को मिल जायेंगे। अगर आप इसे अपने घर में लगाना चाहते है तो किसी ऐसी जगह लगाए जहां सूर्य की सीधी रौशनी ना आती हो। 


बेल के आकार का फूल क्या होता है

बेल के आकार यानी घंटे के आकार वाले कुछ फूल वाले पौधे के नाम – कोरल बेल्स , स्नोड्रॉप्स , एंजेल ट्रम्पेट , बेल्स ऑफ़ आयरलैंड , बेल फ्लावर। 


किस फूल की बेल के आकार की बड़ी पंखुड़ियां होती हैं?

अगर आप बड़े पंखुड़ियों वाले बेल के आकार के फूलो की तालाश में है तो आपको धतूरे के फूल , ईस्टर लिली के फूल पसंद आएंगे। 

Categories
Outdoor Plants

आसान देखभाल वाले 10 फूल जो पूरे वर्ष खिलते है और अपनी आभा बिखरते है

भारत में जितने फूलों  की विविधता पाई जाती है शायद विश्व के किसी और देश में पाई जाती होगी , चाहे आप कश्मीर से कन्याकुमारी चले जाये या अहमदाबाद से ईटानगर आपको फूल पौधों और पेड़ों की ऐसी ऐसी प्रजातियां और किस्मे देखने मिलेंगी की आप मंत्र मुग्ध हो जायेंगे। सुन्दर और खुशबूदार फूल किसी जगह को खुशनुमा तो बनाते ही है साथ साथ उस जगह के साथ उनकी एक अनोखी कहानी भी आपको जुड़ी मिलेगी जैसे की माना जाता है की पारिजात का वृक्ष भगवान कृष्ण अपने साथ स्वर्ग से ले कर आये थे। 

भारत देश में आपको हर प्रकार का जलवायु देखने को मिल जाता है जिसकी वजह से फूलों में भी विविधता देखते को मिलती है जैसे उत्तर पूर्व में बेहतरीन आर्किड और दक्षिण भारत में जैस्मिन। भारत में कुछ फूल ऐसे भी है जो की हिमालय की ऊँची चोटियों में उगते है और आप सिर्फ उन्हें साल में एक बार ही देख सकते है वो अद्भुत फूल है ब्रह्म कमल।  

 लेकिन जब बात हमारे घर के गार्डन की आती है तो हम कुछ ऐसे फूल वाले पौधों की तलाश में रहते है जिनकी हमें ज्यादा देखभाल भी न करनी पड़े और हमारा गार्डन भी साल भर फूलों से गुलज़ार रहे। मेरे कुछ दोस्त पौधे खरीदने से पहले ये करते ही है की आप मुझे पूरे वर्ष खिला रहने वाला फूल बताइए जिससे मुझे  हर बार सीजनल गार्डन की तैयारी न करनी पड़े और ये प्रश्न शायद आपमें से भी बहुतों के दिमाग में आता होगा। 

आज इस लेख के जरिये हम आपको कुछ ऐसे हर ऋतु में खिलने वाले फूल वाले पौधों के बारे में बताएँगे जिनकी देखभाल करना भी बहुत ही आसान है इनमे कुछ सुगंध वाले फूल होंगे जो अपनी मीठी सुगंध से आपको मंत्रमुग्ध कर देंगे। 

पूरे वर्ष खिले रहने वाले फूलों के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी – 

आगे बढ़ने से पहले मैं आपको पौधे की देखभाल के विषय में एक महत्वपूर्ण जानकारी देना चाहूँगा जो नीचे बताये जाने वाले सभी पौधों के लिए होंगे कारगर साबित होंगे। 

  • अपने पौधे को गार्डन से लाने के बाद तुरंत उन्हें किसी गमले में ना लगा दे , उसे आपके घर के नए वातावरण में डलने के लिए थोड़ा समय दे। 
  • अपने पौधों के लिए एक अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी तैयार करें जिसमें सही अनुपात में कोको पीट , मिट्टी और जैविक खाद का उपयोग करें। 
  • जिस भी गमले में आप पौधे को लगाने जा रहे हो उसके तले में जल निकासी के लिए छेद बना ले। 
  • पौधों को गर्मियों में ज्यादा पानी की आवश्यकता होती है और सर्दियों में कम लेकिन आप पौधे को तब ही पानी दे जब मिट्टी की ऊपरी सतह आपको सूखी दिखाई पड़े। 
  • पौधों को और घना बनाने और उसकी अच्छी बढ़त के लिए आप उसकी समय समय पर छटाई करते रहे। 

पीला टेकोमा / गोरी चोरी प्लांट

इस पूरे वर्ष खिलने वाले फूल वाले पौधे को आप जरूर किसी बाग़ की शोभा बढ़ाते देखा होगा टेकोमा के पौधे में छोटे छोटे तुरही के आकर के फूल गुच्छे में आते है। इस पौधे को आप आसानी से जमीन के साथ किसी गमले में भी लगा सकते है , इसे बस अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी और ऐसी जगह चाहिए जहां इसे अच्छी  सूर्य की रौशनी मिले। वैसे तो गर्मियों में इस पौधे में भर भर के फूल आते है लेकिन ये पौधा थोड़े बहुत फूल साल भर देता रहेगा। 

बोगेनवेलिया

अगर आप ऐसी जगह रहते है जहां सूर्य अपनी किरणों को पूरे वर्ष बिखेरता है तो बोगेनवेलिया आपके लिए एक उपयुक्त पौधा जो 365 दिन आपकी बगिया को फूलों से गुलज़ार रखेगा। इसके कागज नुमा फूल कई रंग जैसे की सफ़ेद , नारंगी , गुलाबी और बैंगनी में आते हैं।  लोग अक्सर इसे अपने घरों के बाउंड्री वाल के समानांतर रूप से लगाते है। शुरुआती देखभाल से आप इस पौधे को एक बेहतरीन बोन्साई प्लांट्स में भी तब्दील कर सकते है। 

जैस्मिन

जैस्मिन का पौधा भी कई किस्म का होता है ये झाड़ीदार और बेल दोनों तरह से उगने में सक्षम है , और इसके फूल पुरे वर्ष खिल सकते है। जैस्मिन के छोटे छोटे फूलों से निकलती हुयी मीठी खुशबू आपकी सारी चिंताओं को समाप्त कर देगा। जैस्मिन की एक किस्म गुलाबी जैस्मिन को तो आप घर के अंदर भी लगा सकते है।  इस पौधे की पुरे विश्व में लगभग 200 प्रजातियों पाई जाती है। चमेली के पौधे को आप बड़ी आसानी से कटाई से लगा सकते है। 

नाग चंपा

नाग चंपा का पौधा आम तौर पर पाए जाने वाले चंपा से अलग होता है नाग चंपा को हम प्लूमेरिया पुदिका के नाम से जानते है और चंपा को प्लूमेरिया के नाम से जाना जाता है। इस पौधे की पत्तियां ऐसी होती है जैसे एक नाग फन लगा कर बैठा हो और इसमें  गुच्छे में सफ़ेद फूल आते है। नाग चंपा की अच्छी तरह से प्रूनिंग करने पर ये बहुत ही सुन्दर कैनोपी का निर्माण करता है। इसे पौधे में भी आपको साल भर फूल देखने को मिलेंगे और आप इसे गमले में बड़े आराम से लगा सकते है और कटिंग की मदद से और पौधे बना सकते है। 

अपराजिता

अपराजिता की बेल भी आपको साल के 365 दिन फूल देती है इसके फूल सफ़ेद और नीले रंग के आते है ध्यान रखे बढ़ते समय इस बेल को सहारे की जरुरत होती है तो आप इसे किसी तरह का सहारा जरूर दे। समय समय पर प्रूनिंग करने से पौधे में अच्छी बढ़त होगी और इसमें भर भर के फूल आएंगे । एक बात का खास ध्यान रखें अपराजिता के पौधे में पाउडरी मिल्ड्यू नाम की फंगल बीमारी बहुत आसानी से लग जाती है इससे बचाव के लिए अपने पौधे में  समय समय पर नीम के तेल का छिड़काव करते रहे। 

गुलहड़

गुलहड़ का पौधा भी एक सदाबहार पौधा है और भारत में यह एक बहुत ही आम पौधा है जो आपको बड़े शहरों में भले न देखने को मिले लेकिन छोटे शहरों के लगभग हर घर में आपको यह पौधा देखने को मिल जायेगा। इस पौधे की देखभाल करना भी बहुत ही आसान है , गुलहड़ का पौधा आपको गुलाबी , सफ़ेद , लाल , पीला , पीच और नारंगी रंग में देखने को मिल जायेगा।  गुलहड़ के फूल को औषधीय उपयोग में भी लाया जाता है। 

इक्सोरा

इक्सोरा एक फूलो वाला झाड़ीदार पौधा है जिसे आप अपने गार्डन में एक सदाबहार पौधे के रूप में लगा सकते है , आप इसे बॉर्डर प्लांट या फिर एक सजावटी पौधे की तरह लगा सकते है। इस पौधे में तारों जैसे दिखने वाले छोटे छोटे फूल गुच्छे में खिलते है। इस पौधे को ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती , लेकिन इसे लगाते वक्त ध्यान रखे की पौधे को अच्छी धूप की जरूरत होती है तो इसे ऐसी जगह लगाए जहाँ इसे अच्छी धूप मिले। अगर आपके घर के अंदर अच्छी रौशनी आती है तो आप इसे अपने घर के अंदर भी लगा सकते हो। इक्सोरा के फूल आपको सफ़ेद , पीला , गुलाबी , लाल और नारंगी रंग में देखने के लिए मिल जाएंगे। 

पुटुस

पुटुस एक झाड़ी वाला पौधा है जिसमें आपको पुरे वर्ष फूल खिले हुए दिखाई देंगे इसके फूल बड़े ही आकर्षक होते है और एक कली में दो-तीन रंग के छोटे छोटे फूल गुच्छे में खिले हुए दिख जाएंगे। इसके फूल भी आपको विभिन्न रंगों में देखने को मिल जायेंगे। लेकिन इसके पत्ते आपके लिए थोड़ी समस्या पैदा कर सकते है क्योकि इसकी पत्तियों के कारण आपको  खुजली जैसी समस्याएं हो सकती है। आप इस पौधे को बॉर्डर प्लांट की तरह लगा सकते है जो की दिखने में बहुत ही आकर्षक लगते है। 

मधुमालती

मधुमालती का पौधा लोगों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करने में कभी नहीं चूकता क्योंकि उसके  फूल होते ही इतने ख़ास है जी है इस पौधे को इसके रंग बदलने वाले फूलों के कारण जाना जाता है इसके फूल जब नए नए खिलते है तो वह सफ़ेद रंग के होते है और फिर समय के साथ गुलाबी और मैरून रंग में बदल जाते है। जब पौधा थोड़ा बड़ा हो जाता है तो पौधे में गुच्छे में फूल आते है जो के किसी भी जगह को आकर्षक लुक देते है। इस पौधे को आप आसानी से कटिंग के द्वारा भी लगा सकते है। 

गुलाब

गुलाब के पौधे के बारे में कौन नहीं जानता होगा इसके फूल और उससे आती सुगंध किसी का भी मन मोहने के लिए काफी है। इसकी कई तरह की किस्मे होती है जिसमे  देसी गुलाब के फूल जो सुगंध से भरे होते है आते है , हाइब्रिड गुलाब के फूल जो आपको लाल , पीले  , गुलाबी , सफ़ेद और मिक्स रंगों में देखने को मिल जायेगे और गुलाब की बेल भी आती है देखने में बेहद खूबसूरत लगते है। 

अंत में –

ऊपर हमने आपको हमारी समझ से जो उपयुक्त और 10 आसान देखभाल वाले और पूरे वर्ष खिलने वाले फूल के पौधों के बारे में पूरी जानकारी दी है एक साथ संक्षिप्त रूप से उनकी देखभाल की तो जो जरूरी जानकारी होती है एक जगह पर ही दे दी है ताकि आपके लिए इस लेख को आसान और रोचक बनाया जा सके। ऐसे ही और लेखों को पड़ने के लिए हमारे वेबसाइट फ्रेश स्टार्ट होम गार्डनिंग से जुड़े रहे। 

Categories
Outdoor Plants

5 सबसे बेहतरीन बोन्साई फ्लावर प्लांट्स 

फूलों से भरे पेड़ों  की एक अपनी ख़ास आकर्षण शक्ति होती है आप बिना उनको निहारे उनसे दूर जा ही नहीं सकते लेकिन क्या हो जब ऐसे ही पेड़ आपके गार्डन की शोभा बढ़ाये लेकिन उनका आकर छोटा हो जी हाँ ऐसे ही पेड़ को बोन्साई के नाम से सम्बोधित किया जाता है।  आज हम आपको कुछ ऐसे बोन्साई फ्लावर प्लांट्स के बारे जानकारी देने जा रहे है जिन्हें आप आसानी से अपने लॉन या गार्डन में ऊगा कर उन्हें एक छोटे वृक्ष का आकार दे सकते है और जब इसमें छोटे छोटे सुन्दर फूल आते है तो बोन्साई प्लांट बहुत ही सुन्दर लगता है। 

बोन्साई पौधे को कैसे तैयार किया जाता है ?

बोन्साई पौधे के लिए किसी अलग किस्म की बीज या पौधे की आवश्यकता नहीं होती और उसमें किसी भी तरह  बुनियादी बदलाव नहीं किये जाते दरअसल हर पौधे को आप बोन्साई में तब्दील नहीं कर सकते कुछ पौधों को आप आसानी से उनके बीज या पौधों को  सही तरीके से ऊगा कर उनकी कटाई छटाई कर के एक छोटे पेड़ का आकर दे सकते है जिसे बोन्साई से संबोधित किया जाता है जो की दिखने में आकर्षक लगते है। 

जापानी फ्लॉवरिंग चेरी ट्री बोन्साई

bonsai flower plant

 जापान में चेरी ट्री को एक सजावटी वृक्ष के तौर पर लगाया जाता है जिसमें बहुत ही सुन्दर गुलाबी रंग के फूल आते है इस पौधे को आप शुरुआती देखभाल के साथ एक बेहतरीन बोन्साई में बदल सकते है इस पौधे को अच्छी बढ़त के लिए अच्छी सूर्य प्रकाश और बेहतर पोषक तत्वों से भरी जल निकासी वाली मिट्टी चाहिए लेकिन आपको एक बात का ध्यान रखना होगा इस पौधे के बीज आपके पालतू जानवर और छोटे बच्चों के लिए जहरीला हो सकता है। 

अज़ालिआ बोन्साई

bonsai flower plant

अज़ालिआ एक बहुत ही बेहतरीन फूलों वाला झाड़ीदार पौधा है जिसके पौधे आपको विभिन्न  आकर में देखने को मिल जायेगे , वसंत में इस पौधे में बहुत मनभावन फूल आते है , इस पौधे को अगर शुरुवाती देखभाल और सही तरीके से प्रूनिंग तकनीक का इस्तेमाल कर उगाया जाए तो इसे आप एक बेहद आकर्षक बोन्साई में बदल सकते है , इस पौधे को बढ़ने के लिए अच्छी सूर्य की रौशनी या ऐसी जगह पे भी रखा जा सकता है जहा छाँव हो लेकिन वहाँ थोड़ी धुप आती हो। 

विस्टेरिया बोन्साई

bonsai flower plant

विस्टेरिया एक बहुत ही तेज़ी से बढ़ने वाली बेल है जिसमे बहुत ही सुन्दर नीले और बैंगनी रंग के गुच्छेदार सुगन्धित फूल आते है और आपको विस्टेरिया के फूल सफ़ेद और गुलाबी रंग में भी देखने के लिए मिल जाएंगे। विस्टेरिया की लगभग 10 प्रजातियां पाई जाती है , लेकिन बोन्साई के लिए सबसे उपयुक्त जो प्रजाति है वो चीनी और जापानी विस्टेरिया है। 

कमीलीया बोन्साई

bonsai flower plant

इस पौधे को भी आप बड़ी ही आसानी से एक सुन्दर बोन्साई की तरह बड़ा कर सकते है , जिसके लिए सबसे उपयुक्त किस्म है Camellia Japonica , Camellia Reticulata  और Camellia Sasanqua बड़े होने और अच्छी देखभाल के बाद सर्दियों के आखिरी और वसंत के शुरुवात में बहुत ही सुंदर फूल आते है , इसके फूल आपको सफ़ेद , लाल और पिले रंग में देखने को मिल जायेंगे। 

कमीलीया  के जड़ो को नमी में रहना पसंद है , पौधे में जब फूल खिलना बंद हो जाए आप इसकी प्रूनिंग कर सकते है जिससे पौधे में नयी डालिया आएँगी और इसकी टहनियों को मनचाहा आकर देने के लिए वायरिंग आप सर्दियों में कर सकते है। 

बोगेनवेलिया बोन्साई

bonsai flower plant

बोगेनवेलिया को बोन्साई के रूप में बड़ा करना बहुत ही आसान है , बस पौधे को एक अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी  में लगा कर ऐसी जगह रखे जहा इसे प्रयाप्त सूर्य प्रकाश मिले। पानी तब ही दे जब सतह की मिट्टी सूखी लगे , जब फूल खिलने के बाद सूखने लगे तो कलियों को हटाते जाए और सर्दियों में आप इसकी टहनियों को प्रून ( छटाई ) कर सकते है और जब नई कोमल टहनियाँ थोड़ी बड़ी हो जाए तो आप इसकी वायरिंग कर मनचाहे रूप में ढाल सकते है। बोगेनवेलिया के फूल कई किस्म के आते है जैसे की नारंगी , बैंगनी , सफ़ेद  और गुलाबी। 

अगर आपको इस आर्टिकल से जुड़े किसी बभी तरह के सवाल हो तो आप बेझिजक उन्हें हमसे कमेंट बॉक्स में साझा करे हम उससे जुडी जानकारी  आपको जरूर प्रदान करेंगे। और ऐसे भी आर्टिकल को पढ़ने के लिए हमारे वेबसाइट फ्रेश स्टार्ट होम गार्डनिंग से जरूर जुड़े और इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया हैंडल पर भी शेयर करे। 

Categories
Outdoor Plants

Dark Spots on Aloe Vera Plant – Aloe Vera Plant Care Tips

I know you love your plant, but overwatering it will harm them and leave dark spots on aloe vera plants. Water them only when the top layer of the soil feels dry to the touch.

Placing your plant outdoors in extreme heat leads to sunburn, causing black spots.

Aloe Vera should be planted in well-drained soil so that roots can enjoy air circulation. This reduces the chance of pests and diseases and maintains a healthy plant.

Who doesn’t love aloe vera plants? I think all plant parents would agree we all do! Aloe vera plants are perfect for providing a refreshing look to any indoor and outdoor space, loaded with tons of health benefits and considered hardy and easy to care for succulents. Yes, it is a succulent. Despite having all the advantages, some plant parents still face problems like dark spots on aloe vera plants.

In this article, I am going to discuss some common problems that you might face with your aloe vera plant, along with solutions that will surely boost your plant’s health.

Brown or Dark Spots on Aloe Vera Plant

Keeping an eye on your plant will help you detect and cure the problems your favorite plants are facing at an early stage. Sometimes relocating your plant will solve half of your problem. If you are seeing brown tips or dark spots on aloe vera plants, then you have to check for these reasons.

  • Sometimes you are giving extra love and care to your aloe plant in the form of overwatering, leading to root rot and eventually killing your plant.
  • You have to keep in mind that it’s a succulent and it needs a well-drained potting mix, and its soil must be completely dried out before the next watering.
  • If you are living in a region where summer days are extremely hot, sunburn can also cause brown tips in aloe vera plants. Relocating your plant to partial or full shade will help them.
  • Leaf spot disease is the most common disease found in the aloe vera plant, leading to black spots in these plants.
  • It can spread really fast, and the reason behind that is it’s a fungal infection.

How To Control Leaf Spot Of Aloe Vera

The best way to prevent leaf spot disease is inspecting your plant once a week for any symptoms that lead to these kinds of diseases and adjusting your watering routine. These two ways are the only surefire methods to tackle leaf spot disease.

But what if the aloe vera plant is already infected by leaf spot?

If it’s in the early stage, you can use any fungicide spray and cut off the black spot parts. It’s really hard to prevent this plant from these fungal diseases when infestation has gone too far.

Checking the roots is also important when dealing with dark spots on aloe vera plants. Sometimes the problem is hidden under the soil, and you are trying things on the surface. Root rot can also lead to leaf spots, so trimming out the infected root is the best you can do and repot it in freshly prepared well-draining soil.

Aloe vera is a hardy plant that can thrive even in odd circumstances, so try not to panic and make the wrong decision. With a little care and treatment, they can easily thrive in your garden for years.

10 Trailing Houseplants for Low Light

Categories
Outdoor Plants

50 सबसे बेहतरीन Flowers Names In Hindi ( फूलों  के नाम हिंदी और अंग्रेजी में )

पुरे विश्व में इतनी वनस्पति विविधता है की आप हैरान रह जायेंगे और इसमें आपको न जाने कितने ही सुन्दर और प्यारे फूल वाले पौधे मिल जायेंगे सिर्फ भारत में ही आपको 18,000 से ज्यादा ऐसे पौधे मिल जाएंगे जिनमे बहुत ही खूबसूरत फूल आते है। भारत में जितने फूल वाले पौधे पाए जाते है वो विश्व में पाए जाने वाले सारे फूल वाले पौधे का 6 से 7 प्रतिशत है। आज हम इस लेख के जरिये आपको 50 flowers names in hindi & english में बताने जा रहे है।  

सभी फूल अपने पीछे कुछ न कुछ राज छुपाए बैठे चाहे वह साहित्यिक , धार्मिक , वैज्ञानिक हो या औषधीय ये फूल वाले पौधे न सिर्फ वातावरण में अपनी सुंदरता बिखेरते है बल्कि अपने गुणों के लिए भी जाने जाते है , इनके विभिन्न प्रकार के आकार और सुगंध की हम जितनी प्रशंसा करें उतना कम है। फूलों का उपयोग हम अपने धार्मिक मान्यताओं के हिसाब से करते है जहा हम अपने आराध्य को उनके पसंद के फूल अर्पित करते है , फूल वाले पौधे को हम अपने गार्डन और घर की शोभा बढ़ाने के लिए भी करते है। 

फूल हमारे जीवन के हर कदम पर काम आते है चाहे वह भगवान पर अर्पित करने हो या , अपने प्रिय जन को अपना प्रेम प्रदर्शित करना हो या किसी को श्रद्धांजलि अर्पित करनी हो ये हमारी भावना को दर्शाने में हमारी मदद करते है , कुछ फूल दिखने में बेहद खूबसूरत होते है कुछ मीठी सुगंध से भरे होते है और कुछ हमारे खाने के लिए भी उपयुक्त होते है। 

आइये अब बिना समय गंवाए कुछ बेहतरीन फूलों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में जानते है। 

S.noफूलहिंदी नामअंग्रेजी नामवैज्ञानिक नाम
1.गुलाबRoseRosa Rubiginosa 
2.लिलीLilyLilium
3.कमलLotusNelumbo Nucifera
4.गेंदाMarigoldTagetes
5.सूरजमुखीSunflowerHelianthus Annuus
6.चमेली JasmineJasminum
7.गुलहड़HibiscusRosa Sinensis
8.सदाबहारPeriwinkleCatharanthus
9.ट्यूलिपTulipTulipa spp.
10.मोगराArabian JasmineJasminum Sambac
11.गुलबहारDaisyBellis Perennis
12.नीलकमल Bluewater LilyNymphaea Caerulea
13.रातरानीNight Blooming JasmineCestrum Nocturnum
14.पलाशBastard teakButea Monosperma
15.डहेलियाDahliaDahlia Pinnata 
16.मधुमालतीRangoon CreeperCombretum Indicum 
17.चंपाFrangipaniPlumeria 
18.कनेरOleanderNerium 
19.कामलताCypress VineIpomoea Quamoclit
20.अपराजिताButterfly PeaClitoria Ternatea 
21.बोगनविलियाBougainvilleaBougainvillea Glabra
22.रक्त केतकीBleeding HeartLamprocapnos 
23.चील Bottle BrushCallistemon 
24.हरसिंगारNight Flowering JasmineNyctanthes Arbor- Tristis
25.बनफूलPansyViola Tricolor var.hortensis
26.गुलदाउदीChrysanthemumDendranthema Grandiflora 
27.रजनीगंधाTuberosePolianthes Tuberosa
28.अमलतासGolden ShowerCassia Fistula 
29.पुटूश LantanaLantana Camara
30.रक्त लिली Blood LilyScadoxus Multiflorus 
31.पीला कनेरYellow OleanderCascabela Thevetia 
32.धतूराStramoniumDatura Stramonium 
33.दस बजियाPurslanePortulaca oleracea
34.आर्किडOrchidOrchidaceae 
35.संक्रांत बेलFlame VinePyrostegia Venusta
36.छुईमुईShame PlantMimosa Pudica 
37.मधुकामिनीOrange JasmineMurraya Paniculata
38.पश्चिम भारतीय चमेलीIxoraIxora Sinensis
39.राजहंसLaceleafAnthurium Andraeanum 
40.नर्गिसDaffodilNarcissus pseudonarcissus
41.गुलमोहरRoyal PoinciaraDelonix Regia
42.बनफशा का फूलSweet VioletViola Odorata
43.खसखसPoppy FlowersPapaver Somniferum
44.नागफनीPrickly PearOpuntia Ficus-indica
45.गुलखैराHollyhocksAlcea Rosea
46.रेगिस्तानी गुलाबDesert RoseAdenium Obesum 
47.अबोलीFirecracker FlowerCrossandra Infundibuliformis
48.कृष्णाकमलPassion Fruit FlowerPassiflora 
49.जलकुम्भीWater HyacinthEichhornia Crassipes
50.ब्रह्मकमलBrahma KamalSaussurea Obvallata

फूलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में जानने के फायदे 

फूलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में जानने से उन लोगों को काफी फायदा होता है जो बागवानी के शौकीन है , वनस्पति विज्ञानं की पढ़ाई कर रहे है या फिर फूल पौधों के व्यापार से जुड़े हुए है। भारत वर्ष में कई भाषाएं बोली जाती है लेकिन आप कहीं भी हो हिंदी या इंग्लिश तो सभी जानते ही है तो Flowers Names In Hindi & English की जानकारी रखना आपके लिए ही सुविधाजनक होगा।  चाहे आप पौधे अपने गार्डन के लिए खरीदने जा रहे हो या उसका अध्ययन करने निसंदेह आपको इससे लाभ प्राप्त होगा। 

13 प्रसिद्ध  Flowers Names In Hindi 

गुलहड़

भारतीय बागो और घर के बगीचे में ये पौधा बहुत ही आम है , इस पौधे की लगभग 200 से ज्यादा प्रजातियां है और सबसे बेहतरीन बात ये है की ये बारहमासी पौधा है जो आपके गार्डन को साल भर फूलों से गुलज़ार रखेंगे।  गुलहड़ के फूल विभिन्न रंगों में आते है जैसे की पीला , लाल ,बैंगनी , नारंगी ,गुलाबी। इस पौधे को लगाना और देखभाल करना बहुत ही आसान आप चाहें तो इसे गमले में भी लगा सकते है।

गुलहड़ को धुप पंसद है और उसकी अछि बढ़त के लिए आप एक अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी का चयन करे। गुलहड़ के पौधे पर समय समय पर नीम के तेल और एप्सोम साल्ट का स्प्रे करें इससे इसकी पत्तियां हरी भरी और स्पाइडर माइट्स और एफिडस जैसे कीटों से भी बचे रहेंगे। गुलहड़ के पौधे में ढेर सारे फूल के लिए इसमें गोबर की खाद , कम्पोस्ट जैसे आर्गेनिक उर्वरक का प्रयोग करे। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमगर्मी और बसंत
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 8 से 11
मूल क्षेत्रउष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय

सदाबहार

सदाबहार का पौधा भारतीयों घरों में आपको आसानी से देखने के लिए मिल जाएगा जैसा की इसका नाम है ये पौधा पुरे साल आपको छोटे छोटे और सुन्दर फूल देता रहेगा , इस पौधे के पत्ते अंडाकार के और चमकीले होते है।  सदाबहार के फूल आपको लाल , सफ़ेद , गुलाबी , बैंगनी , मैरून जैसे रंगो में देखने के लिए मिल जायेंगे।  इसके तारे जैसे दिखने वाले फूल किसी का भी मन मोह सकते है , सदाबहार के पौधे आसानी से गमले या कंटेनर में उगाए जा सकते है ये पौधे ज्यादा बड़े नहीं होते। 

सदाबहार के फूलों में औषधीय गुण पाए जाते है जिससे मसूड़ों के रोग और सांस से जुडी समस्याओं का उपचार किया जाता है। इस पौधे को लगाने के लिए एक गमला जिसके तले में छेद हो , अच्छी  जल निकासी वाली मिट्टी और जैविक उर्वरक की जरूरत होगी ये एक बहुत ही आसानी से लगाया जाने वाला पौधा है जिसे ज्यादा देखभाल की जरुरत नहीं पड़ती।

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमवसंत और शरद
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंदोनों जगह जहाँ थोड़ी धूप या अच्छी धूप आती हो
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 9 से 11
मूल क्षेत्रयूरोप , वेस्टर्न एशिया और नार्थ अफ़्रीका

धतूरा

हिन्दू मान्यताओं के हिसाब से धतूरे का फूल बहुत ही अहमियत रखता है यह पुष्प भगवान शंकर को अति प्रिय है , धतूरे के पौधे में तुरही के आकार के बड़े बड़े खुशबूदार फूल आते है अंग्रेजी में इस पौधे को मून फ्लावर भी कहते है क्योकि इसके फूल रात में ही खिलते है और इस पौधे में काटे नुमा फल भी आते है जिसके बीज जहरीले होते है। धतूरे के फूल तीन रंगों में आते है जिनमे सफ़ेद सब प्रसिद्ध रंग है इसके फूल काले और पीले रंग में भी आते है। धतूरे के बीज और पत्ते को सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो इसके कई औषधीय फायदे भी है। 

धतूरा – Flowers Names In Hindi
मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमगर्मी और शरद
पानीहफ्ते में 1 से 2 बार
कहां लगाएंदोनों जगह जहाँ थोड़ी धूप या अच्छी धूप आती हो
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 8 से 11
मूल क्षेत्रउपोष्णकटिबंधीय और

गुलाब

गुलाब के फूल हर किसी को पसंद आते है लोग इसके फूलों से आने वाली भीनी खुशबू से मानो मंत्रमुग्ध हो जाते है। आप इसके पौधों को थोड़ी देखभाल के साथ आसनी से अपने घर के गार्डन में लगा सकते है। कुछ लोगो को तो इस फूल से इतना प्रेम होता है की वो खास तौर सिर्फ रोज गार्डन ही तैयार करते है।

गुलाब के फूल आपको पीला , लाल , गुलाबी , सफ़ेद जैसे रंगों में मिल जायेंगे , इसकी पंखुड़ियों का इस्तेमाल कर लोग इत्र बनाते , इससे गुलकंद जैसे खाद्य प्रदार्थ भी बनाये जाते है। गुलाब की भी तरह तरह प्रजातियां होती जिसमे क्लाइंबिंग रोज शामिल है। गुलाब के पौधे को गमले में लगाने के लिए आपको  एक अच्छी जल निकासी वाले गमले , रोज पॉटिंग मिक्स की जरूरत होगी और सिंचाई का आपको खास ध्यान रखना होगा। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली , उर्वरक उक्त 
फूल खिलने का मौसमवसंत और शरद
पानीहफ्ते में 1 से 2 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 4 से 11
मूल क्षेत्रएशिया 

संक्रांत बेल

संक्रांत बेल जिसे आप फ्लेम वाइन के नाम से भी जानते है एक खूबसूरत बेल वाला पौधा है जिसमें छोटे तुरही के आकार के गुच्छे में नारंगी फूल आते है।  लोग ज्यादा तर इस पौधे को अपने घर के बाहरी दीवार पर सजावट के तौर पर लगाते है , इसके भड़कीले चटक रंग के फूल आपके बगीचे को चार चाँद लगा देंगे , फ्लेम वाइन का पौधा 5 फ़ीट की ऊंचाई तक आराम से बढ़ सकता है। इस पौधे को आप आसानी से अपने घर के बगीचे में लगा सकते है इस बेल को सामान्य मिट्टी , सिंचाई का ध्यान और सीधी सूर्य की रौशनी की जरुरत होती है। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमबसंत और गर्मी
पानीहफ्ते में 1 से 2 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को 6 से 8 घंटे की अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 10 से 11
मूल क्षेत्रउष्णकटिबंधीय

कनेर

कनेर का पौधा बारहमासी पौधा है जिसके दो किस्म आपको हर जगह देखने को मिल आते होने पीला कनेर और गुलाबी कनेर , लेकिन ये पौधा विषैला होता है।  कनेर के पौधे को अक्सर लोग अपने गार्डन को एक अनोखा लुक देने के लिए करते है अगर आपका गार्डन क्षेत्र बड़ा है आप इस पौधे को बॉउंड्री वाल समानांतर लगा सकते है। अगर आप टेरेस गार्डनिंग को तवज्जो देते है तो आप इस पौधे को गमले में भी लगा सकते है बस आपको पौधे  के लिए पोषक तत्वों से भरी अछि जल निकासी वाली मिटटी और एक बड़े गमले की जरुरत होगी।  पौधे को ऐसी जगह रखे जा इसे 6 से 8 घंटे की अच्छी धूप मिले।

कनेर – Flowers Names In Hindi
मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमअंतिम वसंत से शरद 
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को 6 से 8 घंटे की अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 10 से 11
मूल क्षेत्रमेडिटरेनियन क्षेत्र

रातरानी

रातरानी एक बारहमासी पौधा है जिसमें साल में 6 से 7 बार फूल खिलते है , इस पौधे में छोटे छोटे सफ़ेद रंग के खुसबूदार फूल गुच्छे में खिलते है और शाम से इसके फूल खिलना शुरू हो जाते है और पूरी रात अपनी खुशबू बिखेरते है।  इसकी मीठी सुगंध से तो कोई भी मंत्रमुग्ध हो सकता है। रातरानी का पौधा कटिंग से आसानी से लगाया जा सकता है। 

इसके लिए आपको पौधे की टहनियों को 40 डिग्री एंगल पर काट कर पत्तियों को साफ करने के बाद 4 से 5 छोटी छोटी कलमे बना लेनी है फिर कलमों को काटे हुए सिरों को रूटिंग हॉर्मोन में डूबा कर एक अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी में लगा कर थोड़ा पानी डाला कर छोड़ दे और मिट्टी सुखी लगने पर पानी देते रहे जब पौधे से पत्तिया निकलने लगे तो उसे बड़े गमले में लगा दे और ऐसी जगह पर रखे जहा इसे अच्छी धुप मिले। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमबारहमासी
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंदोनों जगह जहाँ थोड़ी धूप या अच्छी धूप आती हो
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 9 से 11
मूल क्षेत्रउष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय

छुई मुई

छुई मुई या फिर लाजवंती का पौधा बड़ा की अनोखा होता है इसकी पत्तिओ को छूते ही ये अंदर की तरफ बंद हो जाते है। इस पौधे को आप अपने गार्डन में कारपेट पौधे की तरह इस्तेमाल कर सकते है ये आपके गार्डन को हरियाली से भरते हुए आपके गार्डन को बड़ा ही अनूठा और जिवंत लुक प्रदान करेगा। समय समय पर लाजवंती के इस पौधे में आपको छोटे पॉम पॉम के आकार के गुलाबी फूल भी देखने को मिलेंगे । 

मेरी बात मानिये ये पौधा आपके बच्चों को बहुत पसंद आने वाला है। इस पौधे में कई तरह के औषधीय गुण भी पाए जाते है और इसकी पत्तियों का इस्तेमाल अनिंद्रा के इलाज़ में किया जाता है। अगर आप भी इस पौधे को लगाना चाहते है तो , सबसे आसान तरीका है इसे बीज द्वारा उगाना लेकिन लाजवंती के बीजों को मिट्टी में रोपने से पहले इसे रात भर पानी में भिगो कर रखे ताकि इसके ऊपर की सख्त परत निकल जाए। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसम गर्मी
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंदोनों जगह जहाँ थोड़ी धूप या अच्छी धूप आती हो
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 9 से 11
मूल क्षेत्रउष्णकटिबंधीय

कृष्णकमल

कृष्णकमल के पौधे को लोग पैशन फ्रूट प्लांट के नाम से भी जानते है , इस पौधे में अंडाकार फल आते है जिसके बीजों के ऊपर मिता गुदा होता है। इस पौधे में बेहद सुन्दर फूल भी आते है जो लाल और नीले रंग के होते है और ऐसे विचित्र फूल आपने पहले कभी नहीं देखे होंगे । ये एक बेल वाला पौधा है जिसको बढ़ने के लिए किसी सहारे की जरुरत होती है , इसकी बेल 15 फ़ीट तक की लम्बाई कवर कर सकती है।

कृष्णकमल का पौधा आपको आसानी से आपके नजदीकी नर्सरी में मिल जायेगा , इस पौधे की अच्छी बढ़त के लिए ये सुनिश्चित करे की इसे अच्छी धूप मिले और समय समय पर इसे जैविक खाद की भी जरुरत होगी , ध्यान रखे पौधे को पानी तभी दे जब इसकी मिट्टी की ऊपरी सतह छूने पर सूखी लगे , ज्यादा जल भराव से पौधे की जड़ों में सड़न शुरू हो सकती है और आपका पौधा मर भी सकता है। 

कृष्णकमल – Flowers Names In Hindi
मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली और पोषक तत्वों से भरपूर 
फूल खिलने का मौसमबसंत और गर्मी
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को 6 से 8 घंटे की अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 10 से 11
मूल क्षेत्रसाउथ अमेरिका 

कमल

कमल का फूल किसे नहीं पसंद अक्सर आपने इन पुष्पों को तालाब की शोभा बढ़ाते हुए देखा होगा , माँ लक्ष्मी का तो यह प्रिय पुष्प है। लेकिन की क्या आपको पता है आप इस पौधे को आसानी से अपने घर में भी उगा सकते है इसके लिए आपको एक बड़े से कंटेनर या गमले की जरुरत होगी। अगर आपको कमल की जड़ मिल जाए तो आपको इसे लगाने थोड़ी आसनी होगी अगर नहीं तो फिर आप इसे इसकी  बीजों से ऊगा सकते है। ताज़ा कमल गट्टे को खाया भी जाता है। 

मिट्टीकीचड़ नुमा चिपचिपी 
फूल खिलने का मौसमगर्मी से शरद
पानीहफ्ते में 2 से 3 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 5 से 10
मूल क्षेत्रएशिया , भारत और चीन 

मधुकामिनी

पौधे किसे नहीं पसंद आते और बात जब फूल वाले पौधे की हो तब तो लोग उनसे नज़ारे चुरा ही नहीं सकते मधुकामिनी भी कुछ इसी तरह का पौधा है इसके छोटे छोटे प्यारे सफ़ेद फूलों से इतनी मनभावन खुशबू आती है की आप अपनी सारी  चिन्ताओ से मुक्त हो जायँगे , मधुकामिनी के पौधे में भर भर के फूल आते है और इसकी सुगंध भी दूर तक जाती है , इस पौधे को आप आसानी से अपने गार्डन बालकनी या टेरेस पर लगा सकते है।

इसके सुगन्धित फूल आपके बाग़ में चिडियो और तितलियों को भी आकर्षित करते है। मधुकामिनी के पौधे को लगाने के लिए नर्सरी से पौधा खरीद लाये और थोड़ी ही देखभाल से ये पौधा आपके बाग़ की शान बन जायेगा। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमबसंत और गर्मी
पानीगर्मी में रोज और ठंड में हफ्ते में 1 बार
कहां लगाएंदोनों जगह जहाँ थोड़ी धूप या अच्छी धूप आती हो
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 9 से 11
मूल क्षेत्रदक्षिण पूर्व एशिया

चील

चील का पेड़ जिसे बोतल ब्रश ट्री के नाम से जाना जाता है एक बहुत ही जाना माना लैंडस्केपिंग पौधा है , आपने इस वृक्ष से लटकते सुन्दर और चटक लाल रंग के फूलों  को जरूर देखा होगा इसके फूल दिखने में हूबहू किसी किसी बोतल ब्रश की तरह दिखते है और इसकी पत्तिया लम्बी और निकुली होती है और चीड़ के फलों जैसे दिखने वाले फल भी होते है। 

बोतल ब्रश या चील के पेड़ को आप कटिगं से आराम से लगा सकते है ,जिसके लिए आपको पेड़ से एक स्वस्थ टहनी चुने और उससे 5 – 5 इंच की कुछ कलमे बना ले और उसे रूटिंग हॉर्मोन में डुबो कर उर्वरक मिलाई हुयी मिट्टी में आराम से लगा ले और जब कलमों में जड़े विकसित कर ले और उसमे आपको छोटी छोटी पत्तियाँ दिखने लगे उससे एक बड़े गमले में लगा दे। इस पौधे की देखभाल करना भी बहुत आसान है बस पानी और उर्वरक का ध्यान रहे। 

मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमबसंत और गर्मी
पानीगर्मी में रोज और ठंड में हफ्ते में 1 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 9 से 11
मूल क्षेत्रऑस्ट्रेलिया

कामलता

कामलता के पौधे को अंग्रेजी में साइप्रस वाइन के नाम से भी जाना जाता है , इस बेल वाले पौधे में मनमोहक छोटे तारे के आकार के फूल आते है इसके सिर्फ फूल ही सुंदर नहीं दिखते इसकी बेल में भी फ़र्न जैसी पत्तियाँ आती है जो दिखने में बहुत ही खूबसूरत लगते है और ये सदाबहार बेल बहुत जल्दी बढ़ती है और किसी भी आउटडोर , टेरेस या बालकनी गार्डन को एक अनोखा लुक देने में सक्षम होती है , लेकिन सरु की बेल आपके पालतू जानवर और बच्चों के लिए परेशानी खड़ा कर सकती है क्योकि ये विषाक्त हो सकती है।

इस बेल को बढ़ने के लिए किसी सहारे की जरुरत होती है लेकिन इसे कही लगाने से पहले एक बात का ध्यान जरूर रखे की इसे दूसरी जगह ले जाना अत्यंत कठिन होगा क्योकि इसकी बेल बहुत ही नाज़ुक होती है , बाकी इसमें कोई कीट नहीं लगते बस इसे अच्छी धूप और समय पर पानी मिलता रहे ये पौधा सालो साल आपके गार्डन की शोभा बढ़ाएगा। 

तरु की बेलFlowers Names In Hindi
मिट्टीअच्छी जल निकासी वाली
फूल खिलने का मौसमगर्मी से शरद
पानीहफ्ते में 2 बार
कहां लगाएंजहां पौधे को अच्छी धूप मिल सके
भारत में कठोरता क्षेत्रजोन 10 से 11
मूल क्षेत्रउष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय

अंत में

भारत देश फूलों की विविधता से भरा हुआ है जहाँ आपको विभिन्न रंग , आकार  , सुगंध के फूल देखने को मिलेंगे। इस लेख के जरिये ऊपर दी गई सारी जानकारी और Flowers Names In Hindi & English और  उनके साइंटिफिक नाम भी दिए गए है जिससे विद्यार्थियों को काफी सहायता मिल जाएगी। इसके साथ हमने आपको भारतीय घरों में जो सबसे ज्यादा प्रसिद्ध फूल वाले पौधे है उनकी भी जानकारी जैसे की उसकी देखभाल लगाने की विधि भी बताई है । 

चाहे वह भीमी खुशबू से भरी मधुकामिनी का पौधा हो या अपनी खूबसूरत लत्तर और फूलों से सबका मन मोहने वाली तरु की बेल या कामलता की बेल हमने 13 पौधों के बारे में संक्षेप में सारी जरुरी जानकारी प्रदान की है। उम्मीद है ये लेख आपको पसंद आया होगा और इसी तरह के और लेखों को पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट फ्रेश स्टार्ट होम गार्डनिंग से जुड़े रहे। 

Categories
Outdoor Plants

Summer Plants In India – इस गर्मी अपनी बालकनी में जरूर लगाएं ये 7 पौधे 

 गर्मी के मौसम में जलती चुभती सूर्य किरणों से सभी परेशान हो जाते है और अगर आपकी बालकनी भी सीधी धूप के चपेट में आती है तो आपके पौधे भी मुरझाने से लगते है इसलिए हम आपके लिए लेकर आये है कुछ बेहतरीन summer plants in india जिससे आप इस तपती गर्मी में भी अपनी बालकनी को हरा भरा लुक दे सकते है। 

आपके बालकनी में आने वाली तेज़ धुप का इस्तेमाल आप अपने पक्ष में भी कर सकते है , जी आप अपने बालकनी में गर्मियों में खिलने वाले फूल वाले पौधे आसानी से किसी कंटेनर या गमले में लगा सकते है जो आपके वातारवण को ठंडा करने के साथ साथ आपकी बालकनी को खुशनुमा बनता है। आप अपनी बालकनी में गुलहड़ का पौधा जरूर लगाए यह पौधा आपको पुरे साल फूल देगा। 

कुछ बेहतरीन Summer Plants In India

पोर्टुलका , डेहलिया , मॉर्निंग ग्लोरी , ज़िन्निया , कॉसमॉस , पेटूनिया , अपराजिता , सूरजमुखी , बालसम , कैलेंडुला , सजावटी घास , डेज़ी , लिली कुछ ऐसे summer season flowers है जो आपके बालकनी गार्डन को फूलो के भर देने और और तेज धुप को भी आसानी से बर्दास्त करने में सक्षम है। इस मौसम में आप काली  मिर्च का पौधा , तुलसी भी गमले में लगा सकते है। 

गुलहड़

Summer Plants In India

गुलहड़ का पौधे की देखभाल करना बहुत  ही आसान होता है और गर्मियों में इस पौधे में ढेर सारे सुन्दर फूल  आते है , ये फूल दिखने में ट्रम्पेट जैसे होते और विभिन रंगो जैसे गुलाबी , पिले और लाल में आते है। इस पौधे को आप आसानी से कटाई से भी लगा सकते है। बालकनी में ये पौधा बेहद खूबसूरत लगेगा। 

बोगनविलिया

बोगनविलिया सदाबहार पौधा है जो गर्मियों के लिए एक उपयुक्त चयन है जिसमे बहुत ही सुन्दर छोटे गुच्छेदार फूल आते है  जो ख़ास कर की गर्मियों में खूब खिलते है , इनके फूले आपको गुलाबी , पीले , सफ़ेद रंगो में मिल जायेंगे। आप इस पौधे को कमाल के  बोनसाई ट्री की तरह भी ग्रो कर सकते है।  बोगनविलिया की देखभाल करना भी काफी आसान है। 

गेंदा

गेंदे का पौधा अपनी एक गार्डन में अपनी एक अलग पहचान दर्शाता है इसके सुन्दर नारंगी,पीले और मैरून फूल किसी का भी मन मोह लेते है।  इस पौधे को आप आसानी से कंटेनर या गमले में लगा सकते है और इसे अच्छी  धूप की भी जरूरत भी होती है तो तेज धूप में इसे कोई परेशानी नहीं होगी। पौधे के लिए एक अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी और गमले का चयन करे। 

मॉर्निंग ग्लोरी

मॉर्निंग ग्लोरी एक सदाबहार बेल है जिसमें बैंगनी रंग के फूल आते है जो आपके बालकनी को एक शानदार लुक प्रदान करेंगे यह पौधा 6 फ़ीट तक बढ़ सकता है जिसे आप गमले में लगा सकते है और अगर इसे अच्छी सूर्य की रोशनी मिले तो इसमें भर भर के फूल आएंगे। 

कॉसमॉस

यह पौधा छोटे गमले के लिए बिल्कुल उपयुक्त है और इसमें  छोटे छोटे और रंग बिरंगे फूल निकलते है।  इसे फूल विभिन्न रंग जैसे की पीले , सफ़ेद , गुलाबी , लाल और नारंगी में आते है। इसे लगाने का सही समय वसंत ऋतु और बारिश का मौसम है। इसे आप आसानी से बीजों से लगा सकते है। 

पेटूनिया

इस पौधे में ट्रम्पेट के आकार के सुन्दर फूल आते है , पेटूनिया के कई किस्म आते है जिसमे फूल अलग आकार और रंग के होते है  इसके फूल आपको सफ़ेद , गुलाबी , पीला , नीला और बैंगनी रंग में देखने को मिलेंगे। 

पेटूनिया के पौधे को अच्छी बढ़त के लिए अच्छी खासी धुप की जरुरत होती है और चाहे आप टेरेस गार्डनिंग करते हो या आप इसे बालकनी में लगाना चाहते हो ये पौधा कही भी अपनी खूबसूरती बिखेरने के लिए तैयार है। 

पोर्टुलका

इस पौधे में छोटे छोटे कागज के गुलाब से दिखने वाले बेहद सुन्दर फूल आते है इसके फूल में कोई खुशबू नहीं होती और सुबह दस बजे खिलने के कारण इस पौधे को हमारी तरफ दस बजिया भी बोला जाता है। 

इसके फूल सफ़ेद , गुलाबी , नारंगी  और पीले रंग में आते है।  

अंत में :-

अगर आपको इस आर्टिकल से जुड़े किसी बभी तरह के सवाल हो तो आप बेझिजक उन्हें हमसे कमेंट बॉक्स में साझा करे हम उससे जुडी जानकारी  आपको जरूर प्रदान करेंगे। और ऐसे भी आर्टिकल को पढ़ने के लिए हमारे वेबसाइट फ्रेश स्टार्ट होम गार्डनिंग से जरूर जुड़े और इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया हैंडल पर भी शेयर करे। 

Categories
Outdoor Plants

Shami Plant Care Tips – तेज़ गर्मी से अपने शमी के पौधे को इन तरीको से बचाये 

इस लेख के जरिये हम आपको कुछ ऐसे Shami Plant Care Tips की जानकारी देंगे जो इस तेज गर्मी में आपके शमी के पौधे को राहत पहुंचाएगी और आपका पौधा लहलहाता रहेगा। 

Shami plant को भारतीय संस्कृति में बहुत ही शुभ पौधा माना गया है जिसे घर में लगाने के अनेकों फायदे मिलते है। अकसर लोग इसे घर के मुख्य दरवाजे के आस पास लगते है , शमी के पौधे को बड़ी आसानी से किसी गमले में भी लगाया जा सकता है। कुछ मान्यताओं के हिसाब से तो शमी के पौधे में भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी का वास होता है इसलिए यह पूजनीय है। इसे घर में लगाने से सुख समृद्धि आती है। 

लेकिन गर्मियों  के मौसम के शमी के पौधे की थोड़ी ज्यादा देखभाल की जरुरत पड़ती है , कई बार सूर्य की तेज किरणों को पौधा झेल नहीं  पाता और मुरझाने लगता है जिससे आप सोच में पढ़ जाते है की इसका समाधान आखिर किया कैसे जाए , अब फिक्र की कोई बात नहीं बस इस लेख में बताये जाने वाले कुछ बुनियादी चीजों का ध्यान रखा जाये तो आपका पौधा सालो साल हरा भरा और लहलहाता रहेगा। आइये अब बिना समय गवाए जाने है की गर्मी के दिनों शमी के पौधे की देखभाल कैसे करे। 

Shami Plant Care Tips

सूर्य की तेज किरणों से बचाव

Shami Plant Care Tips में सबसे पहले आपको इस पौधे किस रक्षा सूर्य की तेज़ किरणों से करनी होंगी क्योकि इसकी कोमल पत्तिया अत्यधिक गर्मी को नहीं झेल सकती और न ध्यान देने पर Shami Plant मुरझाने की अवस्था तक पहुंच जाता है , जमीन में लगे बड़े पेड़ तो इस समस्या से जूझ लेते है लेकिन गमले या कंटेनर में लगे हुए पौधे को आपको सीधी धुप में रखने से बचना चाहिए।  

सुबह और शाम की हल्की धूप तो पौधे की बढ़त के लिए बहुत अच्छी होती है लेकिन दोपहर की तेज किरणों का सामना करना पौधों के लिए बहुत मुश्किल हो जाता है।  अगर आपके छत पर कोई ऐसी जगह नहीं है जहाँ आप अपने पौधों को धूप से बचा सकते तो आप बाजार में मिलने वाले ग्रीन नेट का इस्तेमाल कर सकते है ये आपके दूसरे पौधों को भी धूप से बचाएगा। 

पानी देने का सही समय

Shami Plant Care Tips

कई बार लाख बचाव के बाद भी पौधे की पत्तियां जल जाती है और आपको समझ नहीं आता की आखिर समस्या क्या है , मैं आपको बता दू समस्या बहुत ही छोटी सी है आप अपने शमी के पौधे को गलत समय और गलत तरीके से पानी दे रहे हो। 

तो पानी देने का सही तरीका क्या है ? लीजिये जानिये शमी के पौधे या किसी भी पौधे को दोपहर में जब कड़ी धुप होती है उस वक्त पानी न डाले और पौधे को पानी से नहला न दे , ऐसा करने से पत्तियों पर छोटी छोटी बुँदे रह जाती है तो जो तेज किरणों के संपर्क में आने से पत्तियों को जला देती है। इसलिए पौधे को पानी सीधे गमले में डाल कर दे और पानी देने के लिए हमेशा सुबह या शाम का वक्त ही चुने। 

शमी के पौधे को उसकी जरुरत के हिसाब से ही पानी दे गमले में जलभराव न करे पौधे को तब ही पानी दे जब उसकी ऊपर की मिट्टी की परत हाथ से छूने पर सूखी लगे। पानी देते समय ध्यान न रखने पर पौधे की जड़ों पर प्रभाव पड़ेगा और जड़े सड़ भी सकती है। 

खाद का प्रयोग 

Shami Plant Care Tips

पौधे की अच्छी बढ़त के खाद एक अहम भूमिका निभाती है , शमी के पौधे में भी सुन्दर गुलाबी रंग के फूल निकलते है जिससे पौधा और सुन्दर लगने लगता है।  पौधे में खाद का प्रयोग करने से उसे पोषक तत्व मिलते है और पौधा हरा भरा रहता है।  पौधे को खाद देने के लिए सबसे सही समय वंसत ऋतु है , पौधे में हमेशा गोबर की खाद , कम्पोस्ट नीम की खली जैसे जैविक खाद का ही प्रयोग करें।

ऊपर बताए गए तीनों Shami Plant Care Tips को अपनाने के बाद आपकी शमी के पौधे से जुड़ी सारी परेशानियां समाप्त हो जाएगी और आपका पौधा सकारात्मक ऊर्जा को आकर्षित करता रहेगा। लेकिन क्या आपको असली शमी के पौधे की पहचान है ? अगर नहीं तो नीचे दिए गए ब्लॉग पोस्ट को पढ़ कर शमी के पौधे से जुडी सारी जानकारी प्राप्त करे। 

शमी का पौधा – धार्मिक और औषधीय इस पवित्र वृक्ष को उगाना और उसकी देखभाल करना

Categories
Indoor Plants

10 Trailing Houseplants for Low Light

A home without plants looks gloomy no matter how much you decorate; the shady corners are incomplete without nature’s touch, and for creating that elegant look, you need some trailing houseplants for low light. Their cascading foliage creates a mesmerising look that anyone can fall for. Trailing houseplants are a perfect choice if your room is lacking space for tables and planters. So, for plant enthusiasts, there are many trailing houseplants for low light that will do fine if you don’t get indirect sunlight in your home.

Now, creating your own gorgeous indoor jungle is easy with a motley collection of trailing plants with different colours, styles, and variegated leaves. All these plants are low maintenance, so you can sit back and enjoy the stunning foliage created by these trailing indoor plants.

One thing I must tell you guys is that even low-light plants have their limits so they can’t thrive in dark rooms. You can keep them in partial or full shade; it differs from plant to plant. Enjoy this journey through the most beautiful trailing indoor plants, which will transform your indoor space and make them lively and relaxing.

Styling Tips With These Trailing Houseplants for Low Light

  • Cascading houseplants will look great on bookshelves or any other higher surfaces so that these leafy pals can create downward foliage.
  • You can use that exposed wooden ceiling beam in your favour for hanging planters.
  • Designer-ready-made hangers are always a good option. All you have to do is to fit hooks below a shelf and hang the planter and put in some lovely trailing plants to get the vibe.
  • You can also wall-mount the wooden containers as a planter and plant string of pearls or philodendron and allow them to fall over the corners to get that cascading look.
  • Indoor plants like Ivy can be trained to climb up your walls with the help of some sticky hooks. All they need is bright indirect sunlight to quickly cover up the wall.
  • If you go with plants like Ivy, you have to be careful of your pets because most indoor trailing houseplants are not safe for your four-legged friends.

Best Trailing Houseplants For Low Light UK

String Of Pearls

String Of Pearls – trailing indoor plants

It’s a gorgeous succulent with trailing abilities which has small succulent beads of dark green hue. String of pearls is a fantastic houseplant perfect for hanging baskets or can be placed on a shelf that will create a stunning cascading foliage. It blooms white flowers with a cinnamon aroma but it’s rare. 

String of pearls are also known as string of beads & chain of pearls, so don’t be confused while purchasing the plant. All they need for thriving is well-drained soil and a place where they can get bright indirect light. This plant must be your first choice if you are looking for trailing houseplants for low light.

Tradescantia

Wandering Jew – trailing houseplants for low light uk

Tradescantia, also known as spiderwort or Wandering Jew, is among the easy-to-grow trailing houseplants for low light. It creates vibrant and colourful foliage with its silver-green leaves. The most common and popular variety of this plant is Tradescantia Zebrina (Zebra Plant). You can easily double or triple your plant collection because they are so easy to propagate from cuttings. 

Just cut off their stem, put it in a glass or bottle filled with water and wait till roots start to appear. After that, they are ready to be planted in containers or hanging baskets.

Satin Pothos

Satin Pothos – trailing houseplants

It’s a popular evergreen tropical vine that has vibrant variegated heart-shaped silver-grey mixed leaves, which create an amazing visual appearance. For enjoying its foliage at its best, you have to provide them with some kind of support like a moss pole or a wall. You can also plant them in hanging baskets for a cascading look. Before decorating your room with these beauties, I must tell you that Satin Pothos is toxic to your four-legged friends.

Hoya Linearis

Hoya linearis is an absolutely amazing trailing houseplant that offers you a showering foliage. It also blooms a waxy flower. These plants are perfect for creating your personal rainforest with the help of hanging baskets. It’s a low-maintenance plant that loves a humid environment and it’s a plant that fits into your priority list of best trailing houseplants for low light. Water them only if the top surface of the soil feels dry after touching.

Read More – 365 Days Flowering Plants In India

Ceropegia Woodii

Ceropegia Woodii, popularly known as String Of Hearts, is an absolutely stunning houseplant and belongs to the succulent family. Its sweet-looking heart-shaped marble-patterned leaves create a grey-green foliage and are considered as trailing houseplants for low light. These plants will create an eye-catching cascading look from high shelves or window sills. In the UK, this trailing vine is very popular as a houseplant.

Pothos

Pothos, also known as Devil’s Ivy, is a tropical vine and is considered as a hardy houseplant for the people who want to bring plants into their room but have a limited supply of natural light. You have to buy this plant. It will create magic in your gloomy room. 

It is a perfect trailing plant that will adapt to the environment easily that it is kept in. As a hanging plant, they can transform any space with their heart-shaped shiny leaves. All they need for thriving is a well-draining potting mix and with timely pruning, they get more bushy.

Monstera Adansonii

Monstera Adansonii, also known as Swiss cheese plant or monkey mask plant, is a fantastic option for adding a tropical touch to any space and is one of the perfect trailing houseplants for low light. This plant is known for its heart-shaped leaves, and as the leaves grow, it develops Swiss cheese-like holes.

 If you want large leaves, support this plant with a moss stick and place them where they can get indirect sunlight. Water them once a week, but also check the soil; if it feels dry after touching, then your plant needs water.

Lipstick Plant

It’s a stunning indoor flowering plant that creates magical foliage with its shiny leaves and glorious tubular flowers. Lipstick plants are tropical houseplants best for decorating any space you want. All they need is indirect light and well-drained potting mix to thrive. These plants showcase heavy bloom in summer and fall. They can easily adapt to any indoor environment, and its cascading vines can grow to a height of 2 to 3 feet. The bloom of this plant comes in two shades: orange & red, and you can easily propagate these plants with stem cuttings.

Heartleaf Philodendron

Philodendron Brasil, also known as heartleaf philodendron, is a well-known trailing houseplant that displays its gorgeous and variegated lime-green leaves. This perennial vine can grow 4-6 ft. tall and thrives well in indirect light and requires well-draining soil, monthly fertilisation to grow at its full potential. If you have pets and kids at your home, then you have to be more attentive because philodendrons are toxic to them. You can easily double your plant collection because they can be easily propagated from stem cuttings.

English Ivy

It’s an evergreen perennial also known as woody vine and is considered invasive in many areas because of its belligerent growth. It’s a hardy plant that can be grown indoors without any hustle and is perfect for giving your room a tropical touch. They also have air purification properties; it is among the 10 air-purifying plants suggested by NASA. So, if you are searching for low maintenance and beneficial trailing houseplants for low light, then you must give it a try.

Here, a bonus plant suggestion for you guys. It’s not among the trailing houseplants for low light that I have mentioned above, but the unique beauty that this plant spreads is just outstanding.

String Of Dolphins

String of dolphins is a hybrid version of string of pearls, and the leaves of this plant resemble jumping dolphins. String of dolphins creates an interesting foliage and is a trailing succulent that belongs to the Asteraceae family. These plants are great for hanging baskets and can grow 6 inches tall at its best. It is commonly grown as a houseplant and can be placed near a window so that it can get an adequate amount of indirect sunlight.

Read More – 10 Stunning Indoor Flowering Plants In India 

Conclusion

Finally, I want to add some words that If your indoor space is lacking sufficient sunlight then trailing houseplants for low light are the best solution for adding nature’s touch and greenery.

From the vibrant lipstick plant to the flexible English Ivy in this article we have different options to suit every taste and ornamental preference. 

These plants not only beautify your room but also with their air purification abilities creates a soothing environment making the place more happening. Whether you are a professional plant enthusiast or a newbie who is just starting its indoor garden journey indoor trailing plants bring joy and peacefulness to your home. So, give your living space a nature’s touch with these delightful trailing houseplants for low light.

Categories
Indoor Plants

10 Stunning Indoor Flowering Plants In India 

As a plant parent we want plants at every corner for our home , I don’t know why but they fill me with another level of satisfaction that I can’t express in words either your are an gardening enthusiast or just a beginner who are thinking to start it always wanted indoor flowering plants at their home or office but somewhere in your mind you are thinking that it’s hard to grow them indoors or don’t know which plant to buy to fulfill your wish , After all we don’t want that our efforts goes in vain and beautiful plants have to suffer it.

Just relax and sit tight and make yourself comfortable. After reading this article you’re going to make your home and surroundings amusing with gorgeous Indoor Flowering Plants In India.

Houseplants not only transform the look of any space but also have many hidden benefits like air purification abilities, they enhance your attention span and improve your mental health. Working around these beauties will give you another level of satisfaction.Here I am going to mention the best indoor flowering plants in India.

In this changing world peoples lifestyle is also changing stress is a part of our life and to deal with it and do our work efficiently Indoors flowering plants will definitely do wonders and its proven by a research , Like who does not want to be surrounded by beautiful flowers at home or at workplace studies found that plants increases productivity and creativity and you can work 12 % faster than before.If you’re still confused don’t worry there are plenty of indoor flowering plants in India suitable for our tropical climate that can thrive both in low lighting conditions and indirect sunlight.

4 Reason For Planting Indoor Flowering Plants In India 

We choose plants according to the tropical climate so that they get the right environment to thrive at their full potential. There are many varieties of flora suitable for Indian vegetation that we grow in our garden but when we talk about house plants the most suitable place for them is near a window or balcony. Before starting our journey let’s see why you should plant indoor flowering plants in India ?

  • Filtering Pollutants – As you know that in most cities we are facing a poor air quality index problem, studies have proven that indoor flowering plants can remove harmful toxins like formaldehyde , benzene and carbon monoxide from nearby environments.
  • Stress Buster – Back days people only were stressed when they were facing any threat , it’s a natural human response but now stress is a part of our life. Indoor flowering plants help in reducing stress making the surrounding blissful.
  • Better Sleep –  Insomnia is now a major problem faced by working people. They are struggling to get a quality sleep , indoor plants can help you in getting soothing and calming sleep.
  • Relaxation – It’s science backed and proven study that carrying a houseplant garden as a hobby makes you feel relaxed.

10 Stunning Indoor Flowering Plants In India

Lipstick Plant

Pic Credit – The Spruce | indoor flowering plants |

Lipstick plant also known as lipstick vine or basket vine gets its name from its vivid red tube shaped flowers and is a popular houseplants perfect for displaying in hanging baskets. This easy to care plant blooms gorgeous little flowers in spring , summer & fall and is one of the lovely looking indoor flowering plants in India.

It’s an evergreen perennial that needs well drained soil and indirect sunlight to thrive indoors.Don’t let the soil completely dry out water it when the upper layer of soil feels dry after touching.

Lady’s Slipper Orchid

Pic Credit – Pixabay | indoor flowering plants |

Orchids are seen as premium indoor flowering plants in India there are 25,000 – 30,000 different orchid species but don’t worry I am here for shorting out the list Lady’s slipper orchids are considered perfect for growing indoors and giving astonishing and sophisticated display to any space. This orchid thrives well in low light and needs water occasionally or sometimes twice a week and these plants are sensitive to fertilizers.

It is available in five color options.

  • Pink 
  • Yellow 
  • Greater Yellow 
  • Pink-White 
  • White 

African Violets

Pic Credit – Pixabay | indoor flowering plants |

African violets are from the Streptocarpus genus that blooms bright vibrant violet colored flowers in clusters. These are compact houseplants that don’t require much space and thrive well in bright indirect light. You can also place them under fluorescent bulbs.

They grow well in artificial lightning, you don’t have to be a gardening expert to care for African violets and are one of the best indoor plants with flowers. This plant comes with different color options like purple , blue and white , they love to be planted in well drained soil and like slightly moist soil but overwater them.

Anthurium

Pic Credit – Pixabay | indoor plants with flowers |

Anthurium is also known as a laceleaf plant or flamingo flower because of its bright red bloom with waxy leaves. People living in tropical climates also grow them outdoors but these plants are vulnerable to sunburns so they are popularly grown as houseplants and are considered as one of the gorgeous looking indoor flowering plants in India that can transform the look of any space.

Some of the anthurium are climbers and all they need is high humidity ,snugness and bright indirect sunlight to thrive . These plants bloom stunning vibrant flowers in the shade of Red , White & Pink and are considered as all season flowering plants in india.

Pink Jasmine

Pic Credit – Pixabay |indoor plants with flowers|

Read More – Top 14 Picks: The Best Plants for Terrarium Adventure

Jasmine is my all time favorite plant because of its sweet aromatic and plethora of blooms its an common plant you may have seen in your locality but do you know there’s a variety called 

Jasminum polyanthum also known as Pink Jasmine is known for growing as a houseplant and is among the best indoor plants with flowers.

It is a really fast growing plant that blooms pink-white flowers in clusters that create heavenly foliage and is easy to care for. Pink jasmine can thrive in bright indirect sunlight and is one of the best indoor flowering plants in India.

Peace Lily 

Pic Credit – Pixabay |indoor plants with flowers|

The OG ( original gangster ) among all the houseplant is here Peace lilies. By the way  did you know that these are not true lilies, it’s a tropical plant and this list of best flower plants for home is incomplete without this gorgeous looking plant. Peace lily blooms white & yellow flowers in spring and quite easy to care for as houseplants .

They require bright indirect sunlight to thrive, just plant them in high quality organic matter rich potting mix and they are ready to transform any space with their sophisticated looks. Even though being one of the best indoor flowering plants in India you have to be careful if you have pets at your home because it is toxic to them.

Wax Begonia

Pic Credit – Pixabay |home flower plants|

Wax begonia is a perennial plant with waxy leaves which blooms clusters of tiny flowers. Try to buy a matured plant from a nursery because these plants are slow growers. Most of us grow them as outdoor plants but can be easily grown as houseplants.

These plants look so good on a coffee table or your working desk. All they demand is bright indirect sunlight and a well drained soil to thrive. The flowers of wax begonia are available in a variety of shades like Orange , Pink , Red and White.If you are looking for a compact plant these are considered as best indoor flowering plants in India.

Kalanchoe

Pic Credit – Pixabay | best flower plants for home |

Kalanchoe also known as Widow’s thrill are native to madagascar and it has over 100 species.Widow’s thrill belongs to succulent family and have oval shaped dark green leaves it blooms clusters of  mini vibrant flowers and comes in different color options like White, Salmon , Yellow , Red and Pink.

If you are looking for the drought tolerant indoor flowering plants in India then you have to go for it. These plants are easy to care for and thrive really well in indirect sunlight. For more beautiful flowers, fertilize them once/month in spring and summer.

Gloxinia

Pic Credit – Pixabay | best flower plants for home |

Gloxinia is a gorgeous plant which blooms large bell shaped flowers and has deep green leaves. 

Nowadays you will see hybrid gloxinias in nurseries which are modified to produce large blooms and after blooming its flower lasts for 2 months but after completing its cycle the plant eventually dies and didnt grow back. It is an easy to care plant that thrives in indirect light. The perfect time to plant gloxinia is in winter. Gloxinia comes in different shades like Purple , White , Red and Pink. It’s among the best low light indoor flowering plants in India.

Geraniums 

Pic Credit – Pixabay |indoor flowering plants |

Geraniums also known as Crane’s-bill is an attractive container and low maintenance plant. You can grow these perennial outdoors or as a houseplant. Geraniums are used as focal flowers to give any space a charming look. Blooms are of different shapes , sizes and colors like Red , Orange , Purple and White. For blooming indoors they only require sufficient indirect sunlight.

There are different types of geraniums that can be planted as indoor flowering plants in India.

  • Zonal Geraniums – It blooms large long lasting flowers.
  • Ivy Geraniums – This is a trailing variety of geranium which has ivy like leaves and blooms tiny deep purple flowers in clusters.
  • Regal Geraniums – This variety comes with patterned showy blooms that you can’t see in other types.

All the above shared indoor flowering plants In India are my all favorites and will transform your home into a plant paradise but that’s not the end of this beautiful journey of indoor plants with flowers. Here’s a Bonus Plant that I am sharing with my lovely people which I can’t resist sharing.

Christmas Cactus 

Pic Credit – Pixabay |indoor plants with flowers |

If you are a gardening enthusiast then your winter is incomplete without this plant. It’s a superb houseplant for the winter season. This plant blooms gorgeous pink color flowers all they need to thrive is filtered sunlight and well draining soil. The perfect time to plant Christmas cactus is in fall.

It’s a beautiful succulent which blooms in different shades of Red , Peach , White and Purple. The list of best indoor flowering plants in India end’s here with this astonishing houseplant.

Quick Look At Best Indoor Flowering Plants in India 

PlantSizePlant Type Blooming Time
Lipstick Plant3 ft. LongEvergreen PerennialSpring , Summer & Fall
Lady’s Slipper Orchid0.7-3 ft. LongPerennial MonocotMid-summer & Mid-Winter
African Violets6-9 in. TallPerennialSpring , Summer , Fall & Winter
Anthurium12-18 in. TallHerbaceous , PerennialSpring , Summer , Fall & Winter
Pink Jasmine20 ft. TallVine , PerennialWinter
Peace Lily1-4 ft. TallPerennialSpring
Wax Begonia6-12 in. TallHerbaceous , PerennialSpring & Winter

Kalanchoe
6-18 in. TallPerennial , SucculentSeasonal Bloomer
Gloxinia6-12 in. TallHerbaceous , PerennialSpring , Summer
Geraniums4-48 in. Tall Perennial Spring , Summer , Autumn , Winter
Christmas Cactus 6-12 in. TallSucculent , Cactus , PerennialFall , Winter

Read More – 365 Days Flowering Plants In India

Conclusion 

We do many things to make our home peaceful and a soothing place where we can sit and relax , from purchasing expensive furniture and decorating items but yet you feel like something is missing and you are not getting that lively vibe from your room. Yup you are missing out nature’s touch and floral vibes in your room and I know which indoor flowering plants are suitable for our Indian climate so I have mentioned all the pretty plants in this article. These indoor flowering plants are best for transforming any space or can be used for gifting purposes.

From north to south and east to west we have a diverse range of climate and accordingly many suitable indoor flowering plants in India. So,  what are you thinking? Bring home these beauties and enjoy the floral blooms. Also share this article with your loved ones and for more articles join Fresh Start Home Gardening. Happy Gardening 

Categories
Outdoor Plants

365 Days Flowering Plants In India | All Season Flowering Plants 

Hey, My gardening enthusiast, In India we give so much importance to our trees and plants that we worship some of them .They have benefited us in almost every way while giving our home and society a heavenly touch with their vibrant and gorgeous flowers. From Vibrant cherry blossom blooms spreading their charm in Himalayan states to Neelakurinji flower in Kerala which blooms once in 12 years covering the hill ranges of Munnar with its purple/blue foliage.

India is filled with these blooming beauties but today we are going to show you some beautiful all season flowering plants that bloom throughout the year.

The Botanical Survey Of India has found 46,000 species of plants. If we see the ranking of plant diversity, India is on the 10th position worldwide and 4th in Asia. So, Please make yourself comfortable. You are going to dive into the mesmerizing floral world and explore 365 days flowering plants in India of all colors, fragrant and non fragrant once , and look into their thriving needs and care that will help you in growing these amazing flowering plants in your backyard , lawn or terrace garden.

Here in this article we are going to present to you the most demanded and hardy plants that are also known as 12 months flower plants. Once planted with a little care and maintenance these floral beauties will create a dazzling landscape for your adobe and make it lively with its vibrant blooms. Let’s create a paradise of your own with the help of these plants. They will thrive and bloom throughout the year.

365 Days Flowering Plants In India | All Season Flowering Plants 

Show plants are nice but who doesn’t want flowers in their garden for a tension free gardening experience you need flowering plants that bloom all year, And we will guide you in selecting the perfect 365 days flowering plants also known as all season flowering plants or 12 month flower plants for your all year thriving and blooming garden.

Desert Rose – Adenium

Adenium Image by hartono subagio from Pixabay

Adenium is an awesome succulent plant that looks like an alien species because of its thick trunk , it is also known as desert rose because of its mesmerizing floral display that mimics rose like bloom. Desert Rose is perfect for transforming any outdoor landscapes and container garden. They are also used as bonsai plants , just like other succulents they require good sunlight and careful watering. This all season flower plant bloom comes in different vibrant shades like Pink , Red , Rose , White , Yellow , Orange , Purple and Bi-color . If you have small children and pets at your home, one thing you must know is that the sap of this beautiful desert rose is toxic to people and pets.

Ixora

Ixora|all season flower plant in India | Image by Ceazy Hemanth from Pixabay

It’s an evergreen shrub that blooms four petaled clusters of flowers in the shade of orange , pink , yellow and red and after blooming its flowers last for 4 to 6 weeks , they are pretty hardy and will thrive well with minimal care. They are considered as an all season flowering plant in India and require full sunlight to thrive.

Types of Ixora 

  • Maui – Blooms Orange flowers.
  • Angela Busman – Gives rose colored flowers.
  • Nora Grant – Produces Pinkish blooms.
  • Herrera’s White – Produces White color floral foliage.

Rangoon Creeper – Madhumalti

Madhumalti Image by Bishnu Sarangi from Pixabay

Rangoon creeper is known for its gorgeous color changing fragrant flowers and in India it is commonly known as Madhumalti . If you are setting up a pollinator garden and want to attract flying beauties ( butterflies ) then this is a must have plant for your garden. They get attracted by its sweet fragrant blooms.These types of plant do well in tropical & subtropical regions like India , Thailand & Philippines.Madhumalti is an all season flower plant that blooms five petals with three color options.

  1. Fresh bloom appears white then changes color to pink 
  2. Red 
  3. Deep Maroon

Hibiscus Plant

Hibiscus | 12 month flowering plants in India |Image by Paul Brennan from Pixabay

The amazing fact about this plant is it has over 200 species. It’s a tropical plant that thrives well in partial shades or in full sunlight. Tropical varieties are perfect for warm climates and are considered as all season flowering plants in india. Hibiscus flower’s have many color options like pink , orange , yellow , white and red. The big blooms of these plants are butterflies’ magnet and they require little care to thrive in containers and love bright sunlight.

The flower and leaves of this plant are also used for medicinal purposes; it is believed that it has antiseptic , blood pressure lowering and blood sugar – lowering properties. Hibiscus flower also contains amino acids that benefit the blood circulation in the scalps resulting in hair growth.

Bougainvillea

Bougainvillea| 365 days flowering plants in India | Image by hartono subagio from Pixabay

Bougainvillea is a pretty much versatile plant which starts to spread its gorgeous foliage of colorful flowers in spring , that makes it a perfect 365 Days Flowering Plants In India but give it a plenty of room for spreading and growing its vine because some of it’s kind can reach to a height of 40 feet.It’s an low maintenance plant with a wide range of color options like Pink , Purple , White , Yellow , Orange and Red. 

It’s a tropical plant that grows well in hot and warm climates. If we look at its blooming season it starts blooming in fall and reblooms then spreads its blue -green foliage in spring and continues blooming till summer that makes it a best 12 months flower plant. It is also used for making Bonsai.

Marigold

Marigold | 365 Days Flowering Plants In India | Image by Mabel Amber from Pixabay

Marigold flowers are very auspicious flowers that bloom all year. We use them in festivals as offerings to the gods and decorating purposes. You can easily grow them in your backyard or in containers for your terrace garden. Also, it’s an amazing companion plant making it one the best all season flowering plants in India. Its bright and vibrant orange flower can transform any garden or landscape.

Types of Marigold Flowers

  • African Marigold – Blooms pom pom like Yellow-Orange flowers.
  • French Marigold – Available in colors like Orange , Red , Russet and Yellow.
  • Signet Marigold -Blooms Vibrant & small cherry like flowers.
  • Mexican Mint Marigold – Flowers have medicinal benefits.
  • Lemon Gem Marigold – Its Flowers have a lemon-like aroma.
  • Tagetes Lemmonii – Bloom bright yellow daisies like flowers.

It’s a hardy plant that can regrow with its petals without any care. It passes the check list of best 12 month flowering plants.

Portulaca

Portulaca | 365 days flowering plants in India | Image by マサコ アーント from Pixabay

Portulaca also known as moss rose or 10 O’clock is an gorgeous carpet plant that creates an heavenly foliage of its needle like leaves and papery rose like flowers which comes in the shades of Pink , White , Red , Violet , Orange , Salmon and Yellow. They are gorgeous 12 month flower plants for enhancing your border look or for showcasing container gardens. Moss roses are very low maintenance. All they need to thrive is full sun , well drained soil and regular watering.

Periwinkle

Periwinkle | 365 days Flowering Plants In India | Image by Warida Nilthirach from Pixabay

Periwinkle also known as Sadabahar or Vinca is among the all season flowering plants in India. Its glossy leaves and star-like flowers can turn any dull place and shady areas of your garden lively. Sadabahar comes in a variety of colors like Blue , Purple , White but the most common color you will find in India is Pink. It’s an easy to grow and low maintenance plant also used as traditional medicine for treating hypertension.

Plumeria

Plumeria | 365 Days Flowering Plants In India | Image by Wow Phochiangrak from Pixabay

Plumeria, also known as Frangipani and Champa in India , it’s a perfect plant for tropical and subtropical regions and is considered among 12 months flowering plants in India. Just passing by the trees of frangipani will fill you with its sweet aromatic fragrance and the flowers are also used in religious rituals. Blooms of frangipani are available in colors like Red , Pink , Yellow and White and if you want to transform or create a landscape in your garden they will create magic.

Frangipani Plants are also known for their moisturizing and anti-inflammatory properties. 

With little care this plant can thrive at its full potential. The plant should be planted or kept where it can get at least 6 – 8 hours of direct sunlight and loves well drained soil and before watering let the soil dry out and sit.

Jasmine

Jasmine | 365 days flowering plants in India |Image by Ralph from Pixabay

Yes the fragrance queen is known for its aromatic blooms , Jasmine plants have different plant types that have Trees, the genus jasminum contains over 200 Vines and Shrubs.This flower is mostly found in tropical & subtropical regions and is considered among all season flowers in India. 

Jasmine plants are mostly grown outdoors but some varieties can be grown as houseplants because they can thrive in indirect sunlight. Not only you love the intense fragrance of jasmine, small guests in your garden also love them. It attracts butterflies and hummingbirds into your garden.Most common color for jasmine blooms is white.

Jasmine flowers are used for making perfumes and adding flavor in desserts and beverages. Also, they can give relief from abdominal pain and diarrhea.

Peace Lily

Peace Lily | all season flowering plants | Image by Nika Akin from Pixabay

It’s a very admired and easy to care tropical flowering houseplant with large and shiny leaves that bloom flowers twice a year. The most popular color of its bloom is White and it also comes in Pink and White – Yellow. After blooming the flowers peace lily can last over a month. Peace lily will be a superb choice for enhancing the look of your office or home and is considered as an all season flower plant in India. All this plant needs is a moderate moist soil and indirect sunlight to thrive.

Jersey Lily ( Amaryllis Lily )

Amaryllis Lily | 365 days flowering plants in India | Image by Chesna from Pixabay

Amaryllis lilies are planted as a bulb and bloom trumpet like flowers. They are great for transforming and filling your garden with bright and vibrant colors whether you are a beginner or experts. The flowers of this lily can grow from 4 – 10 inches in size and are available in different colors like Pink , Salmon , Red & White , Orange , Burgundy and Purple & Green.

With little care they can survive both in your indoor or outdoor garden they are also known for their air purification qualities.While selecting your favorite bulb of Amaryllis Lily try to pick up the largest bulb available because they will produce more flowers. Try to use a fertilizer rich in phosphorus that will promote blooming.

Lantana

 Image by |all season flowering plants in India| hartono subagio from PixabayLantana

Lantana is a fast growing shrub that produces tiny clusters of mixed vibrant flowers of orange , yellow , white , red , pink , blue and purple colors and is among the best all season flowering plants .Before planting in the ground you must know that they can spread super fast. They are considered as invasive in many areas.

So , I will suggest that you grow them in containers or pots and keep them in bright sunlight.They will definitely make your container garden setup more lively.Their leaves have rough texture and can cause skin irritation and make you itch , But they are also used in making herbal medicines to treat fever, cough stomach ache , influenza and malaria.

All the plants that I have mentioned above are the best flowers that bloom all year in India, spreading the eye-catching foliage and keeping your garden rich and lively. But our journey through these beauties is not over for our lovely readers. I am sharing one more charming plant that is known as 365 days flowering plants in India and I saw it in my house when I was a kid.

Kalanchoe

Kalanchoe | 365 days flowering plants in India | Image by Tinix from Pixabay

A must have plant if you are looking for an all rounder plant at your home , after blooming this plant creates a vivid foliage of vibrant flowers that comes in the shades of Red , Orange , Yellow and Pink.Kalanchoe belongs to succulent family and is among all season flowering plants easy to care & easily adaptable.

It also improves air quality and leaves are used in traditional medicine because of its anti – microbial and anti – inflammatory properties 

Conclusion – All Season Flowering Plants

While seeing the magical 365 days flowering plants in India we have seen some gorgeous bloomers , some with heavenly aroma & different shapes and sizes.All these plant will keep your garden green and full of floweret in every season so that you can enjoy and feel the mother nature presence at your home & gardens throughout the year.

I have not only given you the beautiful list of 12 month flowering plants in India but also provided the information and benefits these plants carry with themself , we have heard that a tree’s life is dedicated to others. That’s totally true, they make your home aesthetically amazing along with giving different types of health benefits.So , what do you think? Grab all these plants from your nearest nursery and start your garden journey today and be a super plant parent. Loved this article ? If yes then do follow this website ( Fresh Start Home Gardening ) and our social media accounts . Happy Gardening 

More Interesting Article – Top 14 Picks: The Best Plants for Terrarium Adventure

Exit mobile version